क्रिप्टोकरेन्सी के फायदे | Advantage of Cryptocurrency in Hindi

महंगाई से बचाव | Protection from inflation

क्रिप्टोकरेन्सी की बात करे तो पहली बात तो ये है की उसके उपर कोई सरकार का हक़ नहीं है और उसकी मात्रा उसको बनाने के समय की तय की जाती है जिसकी वजह से समय चलते उसकी क़ीमत बढ़ती है। अगर हम सबसे ज्यादा मशहूर क्रिप्टोकरेन्सी बिटकॉइन की बात करें तो पूरी दुनिया में 21 मिलियन बिटकॉइन ही है। जैसे जैसे बिटकॉइन की मांग बढ़ती है वैसे वैसे बिटकॉइन की भी क़ीमत बढ़ेगी। क्रिप्टोकरेन्सी की क़ीमत पूरी दुनिया में सामान होती है।

स्वशासित और प्रबंधित | Self-governed and managed

क्रिप्टोकरेन्सी एक decentralized करेन्सी है मतलब की उसको एक कम्युनिटी चलाती है। आपका हर एक ट्रांसेक्शन रिकॉर्ड कम्युनिटी के हर एक कंप्यूटर में होंगा जिससे आपको कोई एक आदमी से गलती का खतरा नहीं रहता।

विकेन्द्रीकृत | Decentralized

क्रिप्टोकरेन्सी decentralize टेक्नोलॉजी है। Decentralize का मतलब है की कोई भी क्रिप्टोकरेन्सी जो ब्लॉकचैन पर आधारित है उसके ट्रांसेक्शन का रिकॉर्ड जो लेज़र में स्टोर होता है उसकी कॉपी सभी कंप्यूटर में होती है जो इस नेटवर्क में जुड़े है।

लेन देन का लागत प्रभावी तरीका | Cost-effective mode of transaction

क्रिप्टोकरेन्सी का ये भी फायदा है की आप पूरी दुनिया में कही भी पैसे क्रिप्टो के रूप में कुछ सेकंड या मिनट में भेज सकते है। आप क्रिप्टोकरेन्सी के रुप में पैसे ट्रांसफर कर रहे है तो यहाँ आपको फी भी बहुत कम देनी पड़ेगी क्योकि यह कोई बैंक की जरुरत ही नहीं होती।

सुरक्षित | Secure

क्रिप्टोकरेन्सी ब्लॉकचैन टेक्नोलॉजी पर आधारित है। ब्लॉकचैन में आपका डाटा एक ब्लॉक में स्टोर होता है जिसमे आपके डाटा के साथ साथ हैश और प्रीवियस हैश भी होता है। जो प्रीवियस हैश है वो आपके अगले ब्लॉक का हैश होता है। अगर कोई भी आपके डाटा को बदलने की कोसिस करता है तो आपके ब्लॉक का हैश भी बदलता है पर उस ब्लॉक का हैश उसके बाद वाले ब्लॉक में भी होता है जो बदल नहीं सकता।

क्रिप्टोकरेन्सी के फायदे और नुकशान के बारेंमे जानने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें।